उमा बोलीं- शाह को कोरोना, PM के लिए चिंतित, भूमि पूजन के मेहमानों की लिस्ट से हटा दें मेरा नाम


उमा बोलीं- शाह को कोरोना, PM के लिए चिंतित, भूमि पूजन के मेहमानों की लिस्ट से हटा दें मेरा नाम

देश में अब तक 

  • 17 लाख, 50 हजार, 723 लोग संक्रमित हो चुके हैं।
  • 37 हजार, 364 की मौत हो गई। 
  • 11,45,629 लोग अब तक ठीक हुए हैं।


उमा बोलीं- शाह को कोरोना, PM के लिए चिंतित, भूमि पूजन के मेहमानों की लिस्ट से हटा दें मेरा नाम


नई दिल्ली: भाजपा नेता उमा भारती का कहना है कि वह भूमि पूजन के लिए अयोध्या जाएंगी, लेकिन कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री केतु पूजन कार्यक्रम के बाद और अन्य मेहमानों के चले जाने के बाद वो दर्शन करेंगी।

राम मंदिर भूमि पूजन पर उमा भारती का ट्वीट
मेहमानों की लिस्ट से मेरा नाम हटा दें: उमा भारती

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के लिए तैयारियां जारी हैं। पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां पर भूमि पूजन करेंगे, लेकिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और अन्य भाजपा नेताओं की रिपोर्ट पार्टी आने से चिंताएं बढ़ी हैं। भारतीय जनता पार्टी की नेता उमा भारती ने भी ट्वीट कर कहा है कि वो अयोध्या के भूमि पूजन कार्यक्रम में तो आएंगी, लेकिन मंदिर स्थल पर न रहकर सरयू नदी के तट पर रहेंगी।

सोमवार सुबह उमा भारती ने कई ट्वीट किए। उन्होंने लिखा कि कल जब से मैंने अमित शाह जी और बीजेपी के अन्य नेताओं के कोरोना पॉजिटिव होने को सुना। तभी से अयोध्या में मंदिर के शिलान्यास में उपस्थित लोगों खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए चिंतित हूं। इसीलिये मैंने रामजन्मभूमि न्यास के अधिकारियों को सूचना दी है कि शिलान्यास के कार्यक्रम के मुहूर्त पर मैं अयोध्या में सरयू के किनारे पर रहूंगी।

बीजेपी नेता ने उमा भारती ने आगे लिखा कि मैं भोपाल से आज रवाना होऊंगी। कल शाम अयोध्या पहुंचने तक मेरी किसी संक्रमित व्यक्ति से मुलाकात हो सकती है। ऐसी स्थिति में जहां नरेंद्र मोदी, सैकड़ों लोगों के साथ उपस्थित होंगे मैं उस स्थान से दूर रहूंगी। ऐसे में नरेंद्र मोदी के चले जाने के बाद ही मैं रामलला के दर्शन करूंगी।

उमा भारती ने लिखा कि मैंने रामजन्मभूमि न्यास के अधिकारियों और पीएमओ को जानकारी दे दी है कि पीएम मोदी के शिलान्यास कार्यक्रम के वक्त उपस्थित समूह की सूची से मेरा नाम अलग कर दें।

गौरतलब है कि रविवार को ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबर आई, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनके अलावा कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा, यूपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष, यूपी सरकार में एक मंत्री भी कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं, जबकि यूपी सरकार में मंत्री कमला रानी का कोरोना के कारण निधन हो गया।

इससे कुछ दिन पहले ही राम जन्मभूमि परिसर में एक पुजारी के अलावा कुछ पुलिसकर्मी भी कोरोना वायरस के चपेट में आए थे। ऐसे में तभी से ही भूमि पूजन को लेकर चिंताएं बढ़ रही थीं।

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने रविवार को खुद लेट कर अपने संक्रमित होने की जानकारी दी है शाहपुर ग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है वह बुधवार को कैबिनेट की बैठक में मौजूद थे बैठक में नई शिक्षा नीति को हरी झंडी दी गई थी हालांकि बैठक के दौरान सभी मंत्रियों ने लगा रखा था और सोशल इस बीच केंद्रीय मंत्री बाबूलाल कर लिया है वहीं यूपी के मंत्री महेंद्र सिंह लखनऊ के पीजीआई में भर्ती है स्वतंत्र देव सिंह होम आइसोलेशन में है तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित और कर्नाटक के मुख्यमंत्री पुरोहित के तौर पर अस्पताल में भर्ती कराया गया

उधर Unnao district के कानपुर में तैनात खंड शिक्षा अधिकारी सुरेश चंद्र वर्मा (53) ने कोरोनावायरस की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद फानसी लगाकर खुदकुशी कर ली। वह शहर के मोहल्ला कल्याणी देवी में रहते थे। शनिवार रात उन्होंने घर में फांसी लगा ली।

टिप्पणियां